Google adsense approval 2022। गूगल एडसेंस अप्रूवल टिप्स।

Google AdSense approval tricks- भारत में पैसे कमाने के लिए लोगो के अन्दर ब्लॉगिंग का क्रेज काफी बढ़ता जा रहा है, लेकिन उनमे से 90% लोग ब्लॉगिंग को बिच में ही छोड़ देते है, इसका मुख्य कारण है, google adsense approval ना मिलना, बहुत से लोगो को गूगल एडसेंस का अप्रूवल एक बार में नही मिलता है।

और वह यह सोचते रहते है, की “मुझे ऐडसेंस अप्रूवल क्यों नहीं मिल रहा है?” ऐसा क्यों हो रहा मेरे साथ, तथा मेरे ब्लॉग में ऐसी क्या दिक्कत है, जिसके कारण मुझे गूगल एडसेंस के अप्रूवल में प्रोब्लम हो रही है, भारत के अन्दर एक ब्लॉग बनाना आसान है, लेकिन उसपर काम करके गूगल एडसेंस का अप्रूवल लेना काफी कठिन काम होता है।

मै अपनी बात करू तो मेरे पास अभी के समय में तीन गूगल एडसेंस के अकाउंट है, जिसमे से मुझे केवल एक गूगल एडसेंस अकाउंट अप्रूवल के लिए मेहनत करनी पड़ी थी, और उसके बाद मैंने कुछ पर्संनल ट्रिक्स को फ़ॉलो किया, जिसकी मदद से मुझे अब के समय में गूगल एडसेंस का अप्रूवल लेने में किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नही आती है।

मुझे कुछ लोगो का कमेंट आया की ब्लॉग पर एडसेंस अप्रूवल करने का सबसे आसान तरीका क्या है? तो आपको बता दे, कि नए ब्लॉग पर गूगल एडसेंस का अप्रूवल लेना थोडा मुश्किल हो सकता है, क्योकि ऐसे ब्लॉग पर गूगल को ट्रस्ट नही होता है, इस कारण से गूगल आपको एडसेंस का अप्रूवल देने में थोडा समय लेता है।

गूगल एडसेंस के अप्रूवल के लिए सबसे पहले गूगल के बताये गए, नियमो और शर्तो का मानना पड़ेगा, और उन्हें अपने ब्लॉग पर इम्प्लीमेंट करना पड़ेगा, इसके बाद ही आपको गूगल अप्रूवल देगा, कई केस में ऐसा देखा गया होता है, कि कुछ लोगो को दो से तीन दिन के अन्दर ही गूगल एडसेंस का अप्रूवल मिल जाता है।

लेकिन मै अपनी बात करू तो मुझे गूगल एडसेंस का अप्रूवल लेने के लिए ज्यादा से ज्यादा 1 हफ्ते का समय लगा था, क्योकि मै अब के समय में गूगल की policy को सबसे ज्यादा फॉलो करता हूँ, और मेरे हिसाब से हर किसी को गूगल एड्सेंस की पॉलिसी को फॉलो करना चाहिए, क्योकि हम सभी को पता है, कि गूगल इस समय अप्रूवल देने में काफी स्ट्रिक्ट हो गया है।

इसलिए तो कुछ बात तो होगी, यदि आप एडसेंस का अप्रूवल लेने के बाद गूगल की policy को वोईलेट करोगे तो आपका गूगल एडसेंस का account desable हो सकता है, इसलिए यदि आपको गूगल एडसेंस का अप्रूवल लेकर ऑनलाइन ब्लॉग की मदद से पैसे कमाना है, तो आपको एक जेन्वन तरीके से काम करना पड़ेगा।

हालाकि मेरे हिसाब से जब आपके ब्लॉग पर 400 से लेकर 600 के बिच में ट्राफिक आने लग जाए, तब गूगल एडसेंस के लिए अप्लाई करे, क्योकि जब आपके ब्लॉग पर विजिटर ही नहीं आयेंगे, तो आपकी अर्निंग कहा से होगी, इसलिए पहले आप ब्लॉग पर यूनिक आर्टिकल लिखने पर ध्यान दे।

इसके बाद जब आपके ब्लॉग पर थोडा बहुत ट्राफिक आने लग जाए तो आप गूगल एडसेंस के लिए अप्लाई कर सकते है, मै अपनी बात करू तो जब मेरे ब्लॉग पर 200 से ज्यादा ऑर्गेनिक ट्राफिक आने लगा था, तब मैंने अप्लाई किया था, जिससे मुझे एक ही बार में गूगल एडसेंस का अप्रूवल मिल गया था, यदि आप जल्द बाजी में एडसेंस का अप्रूवल लेंगे, तो आपका गूगल एडसेंस डिसेबल होने का खतरा बढ़ जाएगा।

इन सभी टॉपिक को देखते हुए, हमने सोचा की, कुछ ऐसे तरीके के बारे में जानकारी दी जाये, जिसकी मदद से बिगिनर ब्लॉगर गूगल एडसेंस का अप्रूवल आसानी से ले सके, और आज मै अपने इस ब्लॉग के माध्यम से गूगल एडसेंस का अप्रूवल कैसे लेना है, और इसके क्या-क्या नियम है, इन सभी सवालों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देने वाला हूँ।

आज के इस आर्टिकल में हम कुछ ऐसी छोटी-छोटी मिस्टेक के बारे में आप सभी जानकारी देंगे, जिसके कारण कई ब्लॉगर को गूगल एडसेंस का अप्रूवल नही मिलता है, यदि आप मेरे द्वारा लिखे गए इस लेख को पूरा पढ़ लेते है, तो आपको 100% प्रतिशत यह मालुम हो जाएगा, की गूगल एडसेंस का अप्रूवल कैसे मिलता है।

यदि आप इस सवाल यूट्यूब पर सर्च करते तो आपको कुछ रैंडम सी जानकारी दी जाती है, आपको बता दे मै भी अपने ब्लॉग पर ऐसी ही जानकारीयों को इम्प्लीमेंट किया करता था, लेकिन 40+ आर्टिकल लिखने के बाद भी मुझे एडसेंस का अप्रूवल नही मिला, जिसके बाद मैंने कुछ इंट्रेस्टिंग फार्मूले को अपनाया और मुझे 1 week के अन्दर ही अप्रूवल मिल गया।

google-adsense-approval-tips

Google AdSense Approval Trick in Hindi?

यदि आप भी गूगल एडसेंस अप्रूवल के लिए परेशान है, तो निचे हमने कुछ tips and tricks शेयर की है, जिसे फ़ॉलो करके आप भी गूगल एडसेंस का अप्रूवल आसानी से अपने ब्लॉग पर ले सकते है।

गूगल एडसेंस का अप्रूवल लेने के लिए आपको गूगल के नियमो और शर्तो को मानना जरुरी है, यदि आप गूगल के हिसाब से चलेंगे, तो आपको इसका अप्रूवल अवश्य मिल जाएगा, क्योकि गूगल को भी लगता है, जब आप अभी से उसकी policy को वोईलेट कर रहे है, तो बाद में क्या करेंगे इसलिए इन झमेलों से बचने के लिए आपको गूगल के द्वारा बताये गए, नियमो को ध्यान से पढना है, और अपने ब्लॉग को ऑप्टमाइज करना है।

गूगल एडसेंस अप्रूवल के लिए थोड़ी पेसेंस जरुर रखे, क्योकि जब आपके ब्लॉग पर विजिटर आने शुरू हो जायेंगे, तो गूगल आपको कैसे भी करके एडसेंस का अप्रूवल दे ही देगा, तथा इससे पहले कुछ निम्न बातो का ध्यान रखना जरुरी है, जिसके बारे में निचे जानकारी दी गयी है।

Dual account Error- One Account for One Person- 

याद रखे की जब आप गूगल एडसेंस के लिए अप्लाई करने जाए तो वहा पर अपना नाम अवश्य डाले, क्योकि गूगल के बहुत ही स्ट्रिक्ट policy है, जिसे आपको एडसेंस प्राप्त करने के लिए फॉलो करना ही पड़ेगा, ऐसा नही है, की आप एक email id का इस्तेमाल करके account बनाये और फिर दूसरी email का इस्तेमाल करे, ऐसा करने से आपको dual adsense account error  आ सकता है।

इसलिए जिस email का आप ब्लॉग में, गूगल सर्च कंसोल, तथा गूगल एनलाइटिक्स में करते है, उसी email का उपयोग आप गूगल एडसेंस account बनाने के लिए करे, इससे आपको गूगल एडसेंस का अप्रूवल मिलने का चांस काफी हद तक बढ़ जाता है।

Age का ख़ास ध्यान रखे-

जब भी एडसेंस के लिए अप्लाई करे, तो आपको अपने Age का ख़ास ध्यान रखना है, इससे आपको एडसेंस का अप्रूवल जल्दी मिल जाएगा, यदि आपकी Age 18 साल से कम है, तो आपको गूगल एडसेंस का अप्रूवल नही मिलेगा।

इसलिए अपनी उम्र का ख़ास ध्यान रखे, और एक बात पक्का करे, कि यदि आपकी उम्र 18 से कम है, तो आप अपने घर के किसी भी मेंबर के नाम से गूगल एडसेंस का अप्रूवल ले सकते है, इसके लिए आपको यह ध्यान में रखना होगा, की आप जिस किसी के नाम से अप्लाई कर रहे है, उसकी उम्र 18 साल से ऊपर होनी चाहिए।

जरुरी पेजों को बनाये-

जो लोग ब्लॉगिंग करते है, उन्हें ही पता होगा, कि गूगल एडसेंस का अप्रूवल लेना कितना कठिन काम है, ऐसे में कुछ बातो का ध्यान रखना आवश्यक है, तभी आपको गूगल अप्रूवल देगा, गूगल की काफी टफ पॉलिसी के कारण लोगो का अप्रूवल नही मिलता है, और जो लोग गूगल की पॉलिसी को समझ लेंते है।

उन्हें गूगल एडसेंस के अप्रूवल में कोई दिक्कत नही आती है, निचे हमने कुछ पेजों की लिस्ट दी है, जिसे आपको बनाना अनिवार्य है, यदि आपको गूगल एडसेंस का अप्रूवल चाहिए, तो सबसे पहले आप इन पेजों को बनाईये, और अपने ब्लॉग के हैडर सेक्शन में डालिए।

  1. About us
  2. Contact us
  3. Disclaimer
  4. Privacy policy
  5. Terms & condition

गूगल का क्रोलर जब आपके ब्लॉग पर विजिट करेगा, तो सबसे पहले हेडर सेक्शन में इन्ही पेजों को क्रोल करता है, इससे पता चलता है, की यह ब्लॉग एक ओथोंतिक ब्लॉग है, और सभी नियमो का पालन करता है, इसलिए आपको इन पेजों को बनाना अनिवार्य है।

एसएसएल (SSL) सर्टिफिकेट-

यह सबसे मेन पॉइंट है, यदि आपके ब्लॉग पर SSL इंस्टाल नही है, तो आपको गूगल कभी भी अप्रूवल नही देगा, क्योकि कई ऐसी वेबसाइट है, जो स्पैमिंग करती है, और यदि आपके ब्लॉग पर SSL इंस्टाल नही रहेगा, तो गूगल को लगेगा, की आपकी भी वेबसाइट एक स्पैमिंग वेबसाइट है।

इसलिए आपको गूगल एडसेंस के लिए अप्लाई करने से पहले यह पक्का करे, की आपके ब्लॉग पर SSL इंस्टाल हो, यदि आप एक बिगिनर हो, आपको नही पता है, की SSL सर्टिफिकेट कैसे इंस्टाल करना है, तो youtube पर जाकर सर्च कर सकते है, और cloudflare से फ्री में SSL सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकते है।

अपने ब्लॉग पर क्लाउडफ्लेयर का इस्तेमाल करने से ब्लॉग की स्पीड भी काफी हद तक बढ़ जाती है, जिससे आपके ब्लॉग का यूजर एक्सपीरियंस बबढ़ जाता है, और यूजर आपके ब्लॉग पर बार- बार विजिट करना पसंद करते है।

Uniqueness का ध्यान रखे- 

जब भी आप अपने ब्लॉग पर किसी पोस्ट को लिखे तो उसके बारे अच्छी तरह से रिसर्च अवश्य करे, और यह पक्का करे, कि आप जो contant लिख रखे है, उसमे ऐसा क्या ख़ास है, जिसके गूगल आपको एडसेंस का अप्रूवल दे दे, कभी भी अपने ब्लॉग पोस्ट को लिखे तो उसमे यूनिकनेस लाये।

एक बात ध्यान में रखे की आप ऐसे contant को ना लिखे, जिसके बारे में गूगल का डाटाबेस भरा पड़ा हो, हमेशा आप ऐसे कंटेंट की तरफ जाए, जिसके बारे में कोई नही जानता हो, या किसी ने उसके बारे में लिखा ही ना हो।

इसे हम example की तरह समझते है जैसे- हर एक दुकानदार अपने यूजर का काफी ख्याल रखता है, और वही सामान अपने स्टोर में रखता है, जिसे ग्राहक की तलाश है, ऐसे ही हमारा गूगल भी काम करता है, और अपने यूजर का काफी ध्यान रखता है, वह अपने यूजर को ऐसे जगह पर भेजता है, जहा पर उसे अच्छी व सटीक जानकारी प्राप्त हो सके।

इसलिए जब भी अपने कंटेंट को लिखने बैठे, तो यूजर सवालों को ध्यान में रखते हुए, कंटेंट को लिखे, ताकि जब भी कोई यूजर आपके ब्लॉग पर विजिट करे, तो उसे उन सारे सवालों के जवाब मिल जायेंगे, जिसके बारे में वह आपके ब्लॉग पर आया था।

ऐसे में आपके ब्लॉग का ड्युअल टाइम बढेगा, जिसे गूगल को एक सिग्नल जाएगा, की यह ब्लॉग एक अच्छा व सटीक जानकारी प्रदान करता है, जिससे आपको गूगल एडसेंस का अप्रूवल आसानी से मिल जाएगा।

ब्लॉग का डिजाइन-

how to get adsense approval tips and tricks guide-  इस ब्लॉग पोस्ट की मदद से आज हम वह सभी पॉइंट को कवर करेंगे, जिसको फॉलो करके आप गूगल एडसेंस का अप्रूवल आसानी से ले सकते है, जब आप आपके ब्लॉग पर कंटेंट को पब्लिश करे, उससे पहले आप यह पक्का करे, आपको अपने ब्लॉग का एक simple डिजाइन रखना है।

इसके लिए आपको लाईटवेट थीम  का इस्तेमाल करना होगा, जिससे आप अपने ब्लॉग को एक प्रोफेशनल बना सकते है, और यूजर एक्सपीरियंस को बढ़ा सकते है, example के लिए आप हमारे ब्लॉग पर विजिट करके देख सकते है।

ब्लॉग का इजाइन सिंपल रखने के और भी कई सारे फायदे है, एक तो आपको गूगल एडसेंस का अप्रूवल मिल जाएगा, और आपके ब्लॉग का डिजाइन साधारण होने के कारण वह काफी fast रहेगा, जिससे यूजर का एक्सपीरियंस बढेगा, और वह गूगल में रैंक करने लगेगा।

यदि आप सीरियस है, गूगल एडसेंस के अप्रूवल के लिए तो आपको अपने ब्लॉग पर इन सभी पॉइंट को कवर करना आवश्यक है, जिसके बारे निचे विस्तारपुर्वक जानकारी दी गयी है।

  • अपने ब्लॉग में एक home page जरूर बनाये। जरुरी नहीं है लेकिन इस से impression  अच्छा बैठता है।
  • अपने पेजों पर Elements (टेक्स्ट, इमेज वगैरह) को ठीक से लगाएं)
  • आपके ब्लॉग पेजेज और पोस्ट का layout attractive होना चाहिए।
  • आपके यूजर को जो सर्च करना है या पके वेबसाइट से वो जो सर्च करना चाहते है वह आसानी से मिलना चाहिए उन्हें कही भी भ्रमित न करे।
  • अपने blog article में comment section जरूर होना चाहिए जिस से वह अपने विचार को प्रकट कर सके।

Quality Content का इस्तेमाल करे- 

हमने इसके बारे ऊपर भी चर्चा की थी, कि हमें अपने ब्लॉग पर सबसे पहला काम क्वालिटी कंटेंट को पब्लिश करना होता है, क्योकि यह एक ऐसा काम होता है, जिसे हमें रोज-रोज करना होता है, जब भी आप कंटेंट को लिखे तो ऐसे टॉपिक पर लिखे जिसके बारे में लोग अधिक सर्च करते है, ना की ऐसे टॉपिक पर जिसके बारे में गूगल के पास पहले से जानकारी भरी पड़ी है।

यदि आप यूनिक कंटेंट लिखते है, तो आपसे गूगल हमेशा खुश रहेगा, और आपके ब्लॉग को गूगल में रैंक करेगा, आप ऐसा कभी भी ना करे, कि अपने ब्लॉग पर केवल गूगल एडसेंस का अप्रूवल लेने के लिए काम करे, यदि आप एडसेंस का अप्रूवल ले भी लेते है, तो आपको उससे कमाई नही होगी, इसलिए हमेशा अपने यूजर को ध्यान में रखते हुए, क्वालिटी कंटेंट लिखने पर ध्यान दे।

जब आप यूजर को ध्यान में रखकर क्वालिटी कंटेंट लिखते है, तो यूजर आर्टिकल को अपने सोशल मिडिया अकाउंट पर शेयर भी करता है, जिसके कारण आपके ब्लॉग पर विजिटर आने लगते है, और गूगल एक सिग्नल जाता है, कि यह एक ओथोंटीक ब्लॉग है, और आपको गूगल अप्रूवल दे देता है।

Navigation बनाये-

यूजर को बेहतर एक्सपीरियंस देने के लिए आपको कुछ बातो का ध्यान रखना होगा, जिसकी मदद से आपको गूगल एडसेंस का अप्रूवल आसानी से मिल जाए, अपने ब्लॉग में अन्दर मेनू बार को सही स्थानों पर सेटअप करे।

और इम्पोर्टेन्ट केटेगरी को अपने हेडर सेक्शन में एड करे, ताकि यूजर आसानी से आपके ब्लॉग की पोस्ट पर जा सके, निचे हमने कुछ अपने एक्सपीरियंस से आप सभी को नेविगेशन कैसे बनाना है, इसके बारे में जानकारी दी है।

  • ब्लॉग के सभी elements को सही तरीके से बनाना है, और blog में लगाना है।
  • आपको blog articles को सही ढंग से categories में divide करना है, जिससे यूजर को जानकारी सर्च करने में आसानी हो।
  • जो भी आप लिखते है उसका readiblity check करना है, क्या वह font पढ़ने में आसान है color, text और fonts सब check करिये।
  • आपको देखना है की जो भी button , menu आप ने लगाए है वो सब सही से काम कर रहे है या नहीं? जिन में आप ने links दी है वह सही page पर redirect हो रहे है या नहीं? और आपने अगर drop down button दिया है वह proper work कर रहा है या नहीं।
  • अपने ब्लॉग में सर्च बॉक्स अवश्य लगाये, ताकि यूजर आपके ब्लॉग पर किसी भी जानकारी को आसानी से सर्च कर सके।

एडसेंस अप्रूवल के लिए कितनी पोस्ट लिखे- 

जब कोई नया यूजर अपने नए ब्लॉग के लिए गूगल एडसेंस के पास अपना अप्प्लिकेशन भेजता है, तो गूगल उन फॉर्म को मेनुअली चेक करता है, और यह डिसाइड करता है, की ब्लॉग पर लिखे गए कंटेंट कितने है, और यह कितने क्वालिटी है, इसलिए आपको कंटेंट लिखने से पहले इस बात को पक्का करना है, कि आप कितना ब्लॉग पोस्ट अपने वेबसाइट पर पब्लिश किये है।

मेरे एक्सपीरियंस के हिसाब से यदि आपका नया ब्लॉग है, तो आप मिनिमम 1000 वर्ड का- कम से कम 20 से 25 यूनिक आर्टिकल लिखे, और उसे गूगल में इंडेक्स हो जाने दे, इसके बाद ऊपर बताये गए, सभी तरीके को अपने ब्लॉग पर इम्प्लीमेंट करे, और गूगल एडसेंस के लिए अप्लाई करे।

जब हम किसी ब्लॉग को सेटअप करते है, तो उसमे सबसे अहम् भूमिका हमारा यूनिक आर्टिकल ही निभाता है, इसलिए अपने ब्लॉग में ऐसे आर्टिकल लिखे, जिससे गूगल को लगे, की यह एक अथोरिटी ब्लॉग है।

कोपीराईट कंटेंट का इस्तेमाल ना करे-

कभी भी ऐसा काम ना करे, जिसके कारण आपको गूगल एडसेंस का अप्रूवल लेने में परेशानी हो, हमेशा अपने हिसाब से कंटेंट को लिखे, और यूजर को ध्यान में रखते हुए, कंटेंट को लिखे, क्योकि जब आप किसी यूजर के क्युरी का समाधान करेंगे, तो यूजर आपके ब्लॉग पर हर बार आएगा, और आपके ब्लॉग को सब्सक्राइब भी करेगा।

यदि आप कही से कॉपी पेस्ट करेंगे, तो आपको low value contant का Error आ जायेगा, जिसके कारण आप डीमोटिवेट हो जायेंगे, यदि आप एक बिगिनर हो तो, आप गूगल पर सर्च करके आईडिया ले सकते है, कि कंटेंट को कैसे लिखा जाता है।

जब मैंने अपना ब्लॉगिंग का कैरियर शुरू किया था, मै भी कॉपी पेस्ट किया करता था, लेकिन 1 साल तक मुझे कोई भी रिजल्ट नही मिला, इसके बाद मैंने अपने से रिसर्च करके कंटेंट को लिखना शुरू किया, और धीरे-धीरे मै इस मुकाम तक पहुच गया।

पहले आपको कंटेंट लिखने में  कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, -जैसे-  कीवर्ड रिसर्च, कंटेंट राइटिंग इत्यादि, और जब आप इस फिल्ड को पूरी तरह से समझ जायेंगे, तो आपको क्वालिटी कंटेंट लिखने में किसी भी प्रकार कोई दिक्कत नही आएगी।

गूगल किस टॉपिक पर एडसेंस अप्प्रुवल नही देता है-

यह सबसे मुख्य पॉइंट है, क्योकि आप किसी भी टॉपिक पर ब्लॉग बनाकर गूगल एडसेंस का अप्प्रुवल नही ले सकते है, इसके लिए आपको गूगल की policy का ध्यान रखना होता है, हम सभी को पता है, की गूगल ऐसे ब्लॉग को कभी भी अप्रूवल नही देता है, जो गैम्बलिंग, पोर्न, म्यूजिक, डाउनलोडिंग, इत्यादि पर अपना आर्टिकल लिखते है।

आपको इन टॉपिक पर ब्लॉग नही बनाना चाहिए, इसपर आपको गूगल एडसेंस का अप्रूवल नही मिलेगा, इन तरह के कंटेंट पर आपको पॉलिसी वॉयलेशन का error आ सकता है, हमेशा ऐसे टॉपिक को टारगेट करिए, जिसपर आपके कॉम्पटीटर ने ब्लॉग बनाया है, और यदि आप एक बिगिनर है, तो Blogging kaise shuru kare इसके बारे में पढ़ सकते है।

नोट- कभी भी गूगल एडसेंस के अप्रूवल मिलने के बाद इस तरह के कंटेंट को पब्लिश ना करे, नही तो आपका एडसेंस डिसेबल हो सकता है, हम सभी को पता है, कि गूगल दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन है, और एक बार गूगल एडसेंस का account desable हो जाने पर इसका अकाउंट दुबारा रिकवर नही होता है।

और ना ही आप इस नाम से दुबारा account बना सकते है, इसलिए हमेशा गूगल की policy को ध्यान में रखकर काम करे, क्योकि गूगल एडसेंस हिंदी ब्लॉग को सबसे ज्यादा CPC देता है, और ऐसे में गूगल एडसेंस का अकाउंट साथ रहेगा, तो कुछ समय के बाद आपकी अच्छी कमाई भी होने लगेगी।

इनके बारे में भी पढ़े-

FAQ’s by Google Adsense approval tips

  1. गूगल एडसेंस का जल्दी से अप्रूवल कैसे ले’

    Ans- इस पोस्ट में हमने गूगल एडसेंस अप्रूवल के बारे में जानकारी दी है, आप इस पोस्ट पर विजित करके जल्दी से गूगल का अप्रूवल कैसे लेना है, इसके बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते है।

  2. गूगल एडसेंस के लिए कितने दिन बाद अप्लाई करे?

    Ans- गूगल एडसेंस अप्रूवल के लिए कम से कम 25 से 30 दिनतक वेट करे,और क्वालिटी कंटेंट लिखने पर ध्यान दे।

  3. गूगल एडसेंस अप्रूवल के लिए कितनी पोस्ट लिखे?

    Ans- गूगल एडसेंस का अप्रूवल लेने के लिए कम से कम 20 से 25 यूनिक पोस्ट लिखे, इसके बाद इस पोस्ट में बताये गए तरीके को फॉलो करते हुते एडसेंस के लिए आपली करे।

  4. गूगल एडसेंस क्या है?

    Ans- गूगल एडसेंस एक एड नेटवर्क है, जिसके कारण हमारी वेबसाइट पर एड शो होता है।

आखरी शब्द-

बहुत से ब्लॉगर का यही कमेंट था, कि गूगल एडसेंस का अप्रूवल नही मिल रहा है, इसके बारे में जानकारी दीजिये, इसलिए हमने इस पोस्ट की मदद से आप को गूगल एडसेंस का अप्रूवल कैसे ले, इसकी क्या पॉलिसी है, तथा इसके क्या-क्या नियम है, इन सभी सवालों के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी है।

मुझे आशा है, इस ब्लॉग पोस्ट को पढने के बाद आपको आसानी से समझ में आ जाएगा, की नए ब्लॉग पर गूगल एडसेंस का अप्रूवल कैसे लेना चाहिए, और गूगल एडसेंस अप्रूवल के लिए क्या-क्या करना अनिवार्य है, जिसके कारण गूगल हमें आसानी से अप्रूवल दे सके।

यदि आपको इस ब्लॉग पोस्ट से कुछ भी नया सिखने को मिला है, तो इसे अपने सोशल मिडिया account पर शेयर करे, ताकि हर किसी को गूगल एडसेंस अप्रूवल में आ रही परेशानी के बारे में पता चल सके, और अन्य किसी भी जानकारी के लिए निचे कमेंट बॉक्स में कमेन्ट करे।

यदि आप इस ब्लॉग पर नए आये तो यह पक्का करे, की क्या आपके इस ब्लॉग को सब्सक्राइब किया है, यदि नही तो इस www.mysearchindia.com ब्लॉग को सब्सक्राइब जरुर करे, ताकि जब भी मै ब्लॉगिंग से संबधित किसी भी प्रकार की कोई जानकारी शेयर करू तो सबसे पहले आपके पास इसकी नोटिफिकेशन जाये।

Leave a Comment

error: Content is protected !!